blogid : 312 postid : 1186798

विश्व का अमीर खिलाड़ी, इतने पैसे थे इनके पास

Posted On: 6 Jun, 2016 Sports and Cricket में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

विश्व में ऐसे बहुत ही कम लोग होते हैं जो अपने काम से पूरी दुनिया में पहचाने जाते हैं. ‘बॉक्सिंग लेजेंड’ के नाम से मशहूर मुहम्मद अली उन्हीं लोगों में से एक थे. हाल ही में विश्व ने इस महान खिलाड़ी को खो दिया. इनके देहांत से पूरा विश्व शोक में डूबा हुआ है. विश्व के बड़े नेता और खिलाड़ी मुहम्मद अली के योगदान को याद करके श्रद्धांजलि दे रहे हैं.


ali


वैसे मुहम्मद अली न केवल बॉक्सिंग में एक महान खिलाड़ी थे बल्कि उनके बयान भी विश्व में काफी चर्चित हुए. ऐसा ही एक बयान था, जिसमें उन्होंने कहा कि ‘बॉक्सिंग में तमाम गोरे लोग दो काले लोगों को एक दूसरे को पीटते हुए देखते हैं.’


ali0253


बहुत ही कम लोगों को मालूम है कि मोहम्मद अली विश्व के सबसे कीमती खिलाड़ियों में से एक थे. फॉब्स पत्रिका के मुताबिक अपने खेल में अपार सफलता की ऊंचाइयों को छूने वाले मोहम्मद अली के पास 50 मिलियन डॉलर की संपत्ति थी. अपने निधन के बाद उन्होंने यह संपत्ति अपने बच्चों और पत्नी के लिए छोड़ दी है.


Ali025


निधन से पहले अपनी चौथी पत्नी लॉनी के साथ रहने वाले मोहम्मद अली के नौ बच्चे हैं, जिसमें सात बेटी और दो बेटे हैं. उनका एक भाई भी है जिसका नाम रेहमान अली है.



मोहम्मद अली बॉक्सिंग रिंग में लड़ने वाले सबसे महंगे खिलाड़ियों में से एक थे. लैरी होल्म्स के खिलाफ 1980 में खेलते हुए मोहम्मद अली ने 8 मिलियन डॉलर की राशि कमाई थी जो एक बहुत ही बड़ी रकम है.


read: फुटपाथ पर सोने वाले इस बेघर बुजुर्ग ने बनाई है ऐसी बॉडी


यही नहीं, बॉक्सिंग की प्रसिद्ध प्रतियोगिता ‘थ्रिला और मनिला’ में भाग लेते हुए 1975 में मोहम्मद अली ने ‘जो फ्रेज़ियर’ जैसे बड़े खिलाड़ी को धूल चटाया था और 6 मिलियन डॉलर भी कमाए. इससे पहले एक मैंच में मोहम्मद अली ने अपने एक प्रतिद्वंद्वी को हराकर 5.45 मिलियन डॉलर घर लेकर गए थे.

ali58

तीन बार हैवीवेट चैंपियन मोहम्मद अली की एक कंपनी भी है जिससे उन्होंने हर साल करोड़ों डॉलर भी कमाए हैं. उनकी कंपनी का नाम जीओएटी एलएलसी थी जिसे उन्होंने बाद में बेच दिया था. इसके अलावा उन्होंने विश्व की बड़ी-बड़ी कंपनियों से भी डील किया हुआ था जहां से सलाना 4 से 7 मिलियन डॉलर मिल जाते थे.


Ali02

आपको बता दें कि मोहम्‍म्‍द अली ने 1960 में 18 साल की उम्र में पहला गोल्‍ड मेडल जीता था जबकि 22 साल की उम्र में एक बड़ा उलटफेर करते हुए सोनी लिस्टन को हराकर वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप जीत ली थी…Next


read more:

बढ़ते वजन से परेशान रहने वाली यह लड़की बनी तीन साल में बॉडीबिल्डर चैंपियन

शरीर से लकवाग्रस्त और जीता तीन बार मिस्टर इंडिया का खिताब

पढ़िए आम से खास बनी एक विकलांग लड़की की कहानी जिसने कभी अपंगता को अपनी कमजोरी नहीं बनाया




Tags:                     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Kelis के द्वारा
July 11, 2016

Estoy de acuerdo con lo de la exipniercea garrafal, ojala volaramos todos los vuelos como cuando eran los primeros que haciamos en la academia donde haciamos los checklists 5 veces, ya luego el tiempo nos hace confiarnos en que nada va a pasar. Lo de groseros no se a que te refieras, pero en mi opinion, y acepto que en mi manera de pilotar, yo mento madres siempre que vuelo, es como una manera de lidiar con la presion de volar un avion. Y creo que si estuviera en una emergencia lo haria mas.


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran