blogid : 312 postid : 1466

विदेश में प्रदर्शन आईआईसी की टेस्ट टीम का आधार

Posted On: 1 Sep, 2012 sports mail में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

icc test team of the year 2012आज जहां भारत और इंग्लैंड के बीच हो रहे टेस्ट मुकाबले में भारतीय टीम का प्रदर्शन काफी अच्छा दिख रहा है वहीं इसी टीम के किसी भी सदस्य को पिछले साल हुए दो विदेशी टेस्ट सीरीज में शर्मनाक प्रदर्शन करने बाद आईसीसी की टेस्ट टीम में शामिल नहीं किया गया है. टीम का चयन 4 अगस्त, 2011 से 6 अगस्त, 2012 के बीच टीमों और खिलाड़ियों के प्रदर्शन के आधार पर वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज क्लाइव लॉयड की अगुवाई वाले पैनल ने किया. क्लाइव लॉयड के अलावा इस चयन समिति में श्रीलंका के मरवन अटापट्टू, वेस्टइंडीज़ के कार्ल हूपर, इंग्लैंड की पूर्व महिला कप्तान क्लेयर कोनॉर और ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी शामिल थे.


Read: आमिर खान: अमरीकी पत्रिका टाइम ने कहा ‘सत्यमेव जयते’


वर्ष 2011 में भारत की टेस्ट टीम के पहले इंग्लैंड और उसके बाद ऑस्ट्रेलिया से लगातार आठ मैच हारने को आईसीसी ने इसका आधार माना. इन मैचों में भारत का कोई भी बल्लेबाज और गेंदबाज अपने नाम के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर सका. आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में भी भारत का शीर्ष स्थान छिन गया था. इसी सीरीज के बाद भारत के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी पर सवाल उठने लगे और यह वही सीरीज था जब भारतीय क्रिकेट के दो धुरंधर राहुल द्रविड़ और अब वी.वी.एस लक्ष्मण ने संन्यास ले लिया.


आईसीसी ने जो इस बार की अपनी टेस्ट टीम बनाई है उसमें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाड़ियों का दबदबा साफ दिखाई दे रहा है. इस समय क्रिकेट के तीनों स्वरूपों में नंबर वन स्थान प्राप्त करने वाली मौजूदा टीम दक्षिण अफ्रीका के पांच खिलाड़ी इस टेस्ट टीम का हिस्सा हैं जबकि इंग्लैंड के तीन खिलाड़ियों ने टीम में जगह बनाई. इन दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने अपने बेहतर प्रदर्शन से यह साबित कर दिया कि वह खेल के असली फॉर्मेट के असली खिलाड़ी हैं. गुरुवार को ही आईसीसी सालाना पुरस्कारों के साथ-साथ टेस्ट टीम का भी ऐलान किया गया, जिसमें दक्षिण अफ्रीका के पांच और इंग्लैंड के तीन खिलाड़ी शामिल हैं.


आईसीसी की इस टीम में कप्तानी का दारोमदार ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी माइकल क्लार्क को मिला है जबकि विकेट कीपिंग के रूप में इंग्लैंड के मैट प्रायर को उपयुक्त माना गया है. दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन लगातार पांचवें साल इस टीम का हिस्सा बने हैं, वहीं दक्षिण अफ्रीका के हाशिम अमला व जैक कैलिस तथा श्रीलंका के कुमार संगकारा लगातार तीसरी बार और इंग्लैंड के एलेस्टेयर कुक व स्टुअर्ट ब्रॉड लगातार दूसरी बार टीम में शामिल किए गए हैं.


आईआईसी की चुनी गई टीम इस प्रकार है:
एलेस्टेयर कुक (इंग्लैंड),
हाशिम अमला (दक्षिण अफ्रीका),
कुमार संगकारा (श्रीलंका),
जैक कैलिस (दक्षिण अफ्रीका),
माइकल क्लार्क (ऑस्ट्रेलिया),
शिवनारायण चंद्रपाल (वेस्ट इंडीज),
मैट प्रायर (इंग्लैंड),
स्टुअर्ट ब्रॉड (इंग्लैंड),
सईद अजमल (पाकिस्तान),
वेर्नोन फिलांडर (दक्षिण अफ्रीका),
डेल स्टेन (दक्षिण अफ्रीका),
12वें खिलाड़ी एबी डिविलियर्स (दक्षिण अफ्रीका)


आईसीसी की टेस्ट टीम में शामिल न होना भारतीय खिलाड़ियों के लिए एक सबक है कि केवल भारत में प्रदर्शन करके चोटी की टीम में अपना नाम शुमार नहीं किया जा सकता बल्कि इसके लिए विदेशी सरजमीं पर जीत हासिल करनी पड़ती है.


Read: आईसीसी पुरस्कार की दौड़ में केवल तीन भारतीय खिलाड़ी

Read: दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम ने रचा इतिहास

ICC test team of the year 2012, iICC test team 2012, No Indian in ICC Test Team of the Year, test team icc, Icc Test Cricket Team, Cricket News



Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran