blogid : 312 postid : 1100

क्रिकेट के नए नियमों से रोमांचक खेल की उम्मीद (New Rules of Cricket)

Posted On: 28 Jun, 2011 sports mail में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अगर हांगकांग में चल रही आईसीसी की सालाना मीटिंग में मुख्य कार्यकारी समिति के सुझावों को मान लिया गया तो संभव है आप दुबारा किसी चोटिल बल्लेबाज के लिए रनर को दौड़ता ना देखें और ना ही 40 ओवर के बाद कभी आपको पावर प्ले देखने को मिले और आगे से आपको एक ही ओवर में दो-दो बाउंसर(Bouncer) देखने को मिले.


वनडे क्रिकेट में कई बड़े बदलाव आने की पूरी पूरी उम्मीद है. हांगकांग में चल रही आईसीसी(ICC) की सालाना मीटिंग में मुख्य कार्यकारी समिति ने कई बड़े और अहम सुझाव दिए हैं. आईसीसी इन सुझावों को मान लेता है तो नया सिस्टम 1 अक्टूबर से अमल में लाया जाएगा. इसके अलावा यूडीआरएस(UDRS) का नया बदला हुआ रूप टेस्ट और वन डे में लागू करने का फैसला किया गया.


ICC_B_june27भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के विवादस्पद अंपायर निर्णय समीक्षा प्रणाली (Umpire Decision Review System) के विरोध के बावजूद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने इसे हरी झंडी दे ही दी. संशोधित स्वरूप में हाट स्पाट टेक्नोलोजी तो होगी लेकिन इसमें हाक आई नहीं होगी जिससे गेंद की दिशा का पता चलता है. इसका मतलब है कि यूडीआरएस में एलबीडब्ल्यू (LBW : Leg Before Wicket) के फैसले शामिल नहीं होंगे. यूडीआरएस के अनिवार्य नियम और शर्तों में अब ‘थर्मल इमेजिंग’ (Thermal Imagining) और ‘साउंड टेक्नोलॉजी’ (Sound Technology) शामिल होगी. बॉल ट्रैकर को हटाने पर सहमति बन गई है.


इसके साथ क्रिकेट को और रोमांचक बनाने के लिए एक अहम सुझाव दिया गया है कि रनर(Runner) हटा दिया जाए. अब तक क्रिकेट में रनर का रोल बेहद अहम रहा है. लेकिन कई बार रनरों की भूमिका पर सवाल उठाए गए हैं खासकर जब कोई खिलाड़ी बिना वजह अपना रनर रखता है तब. लेकिन अब इन रनरों को हटाने का ही मन बना लिया गया है.


इसके अलावा हर पारी में दो बॉल का इस्तेमाल और हर छोर से नई बॉल का इस्तेमाल भी शामिल किया गया है. सफेद बॉल के चमक खोने और हार्ड होने के कारण यह नया नियम अपनाना पड़ा. तीसरा अहम फैसला है बैटिंग और बॉलिंग पावरप्ले (Power Play) को 16 से 40 ओवर के बीच रखना. इससे बीच के ओवरों में मैच बोझिल नहीं लगेगा. स्लो ओवर-रेट पर पेनाल्टी और कड़ी कर दी गई है. अब तक एक साल में तीन बार धीमा ओवर-रेट (Slow Over Rate) देने वाले कैप्टन को सस्पेंड किया जाता था, लेकिन नए रूल के मुताबिक साल में दो बार स्लो ओवर-रेट ही उसे सस्पेंड करने के लिए काफी होंगे.


नए सुझावों को अगर मंजूरी मिल जाती है तो निश्चय ही यह आने वाले क्रिकेट के लिए अच्छा होगा लेकिन आईसीसी को क्रिकेट की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए कुछ और ठोस कदम भी उठाने होंगे. बीच के ओवरों में पावर-प्ले का इस्तेमाल तो एक बेहतरीन सुझाव है जिससे शायद हर क्रिकेट-प्रेमी खुश होगा पर एक ही ओवर में दो बाउंसर की राय बल्लेबाजों को रास नहीं आएगी.


| NEXT



Tags:                                                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

2 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Umesh Soni के द्वारा
May 16, 2012

उमेश सॊनी

Umesh Soni के द्वारा
May 16, 2012

उमेश सॊनी 


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran